गुलाब जामुन रेसिपी – Gulab Jamun Recipe in Hindi

gulab-jamun-recipe

हेलो फ्रेंड आप सभी का Cook Mantra में स्वागत है। फ्रेंड आज हम इस लेख में बताएंगे Gulab Jamun Recipe in Hindi के बारे में।

यह मुलायम, स्पंजी और नाजुक, केसर और इलायची के स्वाद बाला चाशनी में भीगे हुए गुलाब जामुन उत्तर भारत की पारंपरिक मिठाई है।

हालांकि उत्तर भारत के पारंपरिक मिठाई पूरे भारत में प्रसिद्ध है।

विशेष रूप से भारत के पश्चिम में दीवाली, रक्षाबंधन और दशहरा जैसे अवसरों पर बनाया जाता है।

मावा यानी खोया से बने हुए, इसके अंदर केसर और इलायची खुशबू वाले गुलाब जामुन बहुत ही स्वादिष्ट और मुलायम होता है।

इसी वजह से जिसने इसे एक बार खा लिया तो इसका स्वाद भुला नहीं पाएगा, क्योंकि यह स्वादिष्ट, मुलायम और खुशबुदार मिठाई मन को लुभाता रहेगा और बार बार खाना पसंद करेंगे।

गुलाब जामुन बनाने के लिए बाजार में उपलब्ध अनेक तैयार मिक्स है, लेकिन होममेड मावा यानी खोया के साथ बनाया रेसिपी को कोई नहीं हरा सकता है।

जबकि यह थोड़ा टाइम लगता है, इसे बनाना बहुत मुश्किल भी नहीं है।

जितना स्वादिष्ट मिठाई है उतना ही आसान बनाने की तरीका है।

यह मिठाई शादी, त्योहार और खुशी के अवसरों पर विशेष रूप से पसंद किया जाता है।

आप भी इस रक्षाबंधन में मावा यानी खोया से बनाये लोकप्रिय मिठाई गुलाब जामुन।

आइए जानते है मावा यानी खोया से कैसे घर पर गुलाब जामुन बनाते है Gulab Jamun Recipe in Hindi

आवश्यक सामग्री – Ingredients for Gulab Jamun Recipe

  1. मैदा – 1/2 कप
  2. मावा ( खोया ) – 1 कप कद्दूकस किया हुआ
  3. हरी इलायची पाउडर – 1/4 टीस्पून
  4. केसर – 8 से 10 किस्में
  5. चीनी ‌‌‌‌‌-‌ 1 1/2 कप
  6. बेकिंग सोडा – 1/8 टीस्पून
  7. घी – तलने के लिए

विधि – How to Make Gulab Jamun

घर पर मावा या खोया बनाने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें – How to Make Mawa in Hindi

चाशनी (‌‌ चीनी का सिरप ) तैयार करने के लिए

चाशनी बनाने के लिए एक गहरे बर्तन में 1 1/2 कप चीनी, हरी इलायची पाउडर और केसर की किस्में डालें।

इसमेंं 2 1/2 कप पानी डालें और तेज़ आंच पर उबालने रखें। जब उबालने लगें तब आंच मध्यम कर दें।

उसे तब तक उबालें जब तक कि चाशनी थोड़ा चिपचिपा लगने लगें। बीच-बीच में चम्मच से चलाते रहे।

चाशनी के घोल से लेकर 1 से 2 बूंद थाली में टपकाएं, अंगूठे और अंगुली के बीच चिपका कर देख लें।

चाशनी अंगूठे और अंगुली के बीच चिपकना चाहिए, आधा तार बने।

गैस को बंद कर दें। इसे एक साइड में रख दें।

जब जामुन तलने के बाद तैयार हो जाएगा, तब चाशनी को फिर से गरम कर लें।

जामुन बनाने के लिए

मावा यानी खोया को अच्छे तरह मैश कर लें। ताकि मावा की गुठलियां पूरे तरह निकल जाएं।

एक बड़ा सा कटोरे में मावा लें, साथ ही बेकिंग सोडा और मैदा छानकर डालें।

एक चम्मच की सहायता से अच्छे तरह से मिक्स कर मिलाएं और एक साथ मिलाकर चिकना मुलायम आटा गूंथ लें।

अगर जरूरत लगे तो कुछ टीस्पून दूध डाल सकते है। एक साथ ज्यादा दूध न डालें, दूध थोड़ा थोड़ा ही डालें।

आटे को 16‌ बराबर भागों में बांट लें। अपने हथेलियां पर तेल या घी लगाकर चिकना कर लेंं और आटे में से गोला बना लें।

ध्यान रहे कि गोले के सतह पर कोई दरारे नहीं होना चाहिए, अन्यथा जामुन तलते के टाइम खुलने लगेगा।

अगर दरारे है तो आटा नरम बनाने की जरूरत है, आटे में थोड़ा दूध मिलाकर उसे नरम बनाएं।

फिर उसमें से गोले बनाएं।

एक कड़ाही में मध्यम आंच पर घी गरम करने रखें।

जब घी मध्यम गरम हो जाए तब उसमें मिश्रण में से एक छोटा सा टुकड़ा घी में डालें।

और देखें कि अगर वो रंग बदले बिना ही तुरंत ऊपर आ जाता है तो घी तलने के लिए तैयार है।

अगर वो तुरंत ही ब्राउन हो जाता है तो घी ज्यादा गरम है।

मध्यम गरम घी में धीरे धीरे से गोले यानी जामुन ( छोटे छोटे बैचों में या कड़ाही की आकार के अनुसार ) डालें ।

इसे धीमी से मध्यम आंच पर तले।

जामुन तलते टाइम कलछी न लगाएं, बल्कि गरम गरम घी उसपर कलछी से डालें और ब्राउन होने के बाद हल्का सा हिला हिला कर‌ तले।

जामुन के चारों तरफ ब्राउन होने तक तल लें।

तले जामुन कड़ाही से निकाल कर एक प्लेट में किचन नैपकिन पेपर विछा कर रखें और 5 मिनट के लिए ‌ठंडा होने दें।

उन्हें सीधे गरम चाशनी में मत डालें। तले हुए जामुन को हल्के गरम चाशनी में डालें।

अगर आप उन्हें ज्यादा गरम चाशनी में डालेंगे तो वो सिकूड़ जाएगा।

उन्हें कम से कम 1 से 2 घंटे के लिए चाशनी में डूबो कर रखें।

आप देखोगे जामून का आकार लगभग दोगुना हो गया है।

गुलाब जामुन बनकर तैयार है।

उन्हें गरम या ठंडा डेजर्ट के रूप में या खाने के साथ मिठाई के रुप में परोसे।

सुझाव – Suggestion

यदि आप घर पर मावा यानी खोया बनाना नहीं चाहते है, तो आप किसी भी डेयरी की दुकान से खरीद सकते है।

आटे में से ज्यादा बड़ा जामुन मत बनाएं क्योंकि वह तलने और चाशनी में भिगोने के बाद लगभग दोगुना हो जाएगा।

आप जामुन को धीमी – मध्यम आंच पर ही तले, उन्हें तेज़ आंच पर तलेंगे तो वो बाहर से तुरंत ही ब्राउन हो जायेगा, लेकिन अंदर से कच्चा रहगा।

यदि जामुन घी में तलते टाइम खुल रहे है या फट रहे है या ज्यादा नरम हो तो, थोड़ा सा मैदा मावा के आटे में मिलाकर अच्छे तरह मल लें।

तले हुए जामुन को सीधे गरम चाशनी में मत डालें और ध्यान रहे कि चाशनी भी ज्यादा गरम न हो अन्यथा वो सिकुड़ जाएगा।

चाशनी में गुलाब का स्वाद पाने के लिए आप केसर के जगह पर थोड़ा सा गुलाब जल और गुलाब की पंखुड़ियां डाल सकते है।

गुलाब जामुन रेसिपी – Gulab Jamun Recipe in Hindi

प्रेप टाइम 15 minutes
कुकिंग टाइम 30 minutes
टोटल टाइम 45 minutes
लेवल कुकिंग आसान
स्वाद मीठा
सर्विंग 16 गुलाब जामुन
कैलोरीज़ 143 kcal
Keyword Gulab Jamun Recipe in Hindi, गुलाब जामुन रेसिपी

निष्कर्ष – Conclusion

तो फ्रेंड कैसा लगा आपको Gulab Jamun Recipe in Hindi आशा करता हूं कि आपको गुलाब जामुन बनाने की विधि खूब पसंद आया होगा, तो इस रेसिपी को घर पर जरूर ट्राइ करें और नीचे comment करके बताएं गुलाब जामुन बनाने की विधि कैसा लगा।
Friends और Family के साथ जरुर share‌ करें।इस रेसिपी को लेकर कोई भी डाउट हो तो आप नीचे comment करके पूछ सकते हैं, हम आपका जवाब देने की पूरा कोशिश करेंगे। धन्यवाद।